सीरीज पर ऑस्ट्रेलिया का कब्जा, टीम इंडिया को 51 रनों से दी मात

नई दिल्ली। विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया दौरे की वनडे सीरीज गंवा दी। ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ की 64 गेंदों में 104 रनों की शतकीय पारी से रनों का ऐसा पहाड़ खड़ा कर दिया, जिसे पार करने से टीम इंडिया 51 रन पीछे रह गई। इस तरह दूसरे वनडे में भारत को 51 रनों से हराकर उसने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त ले ली है। इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने अपनी धरती पर भारत के हाथों पिछली सीरीज हार का बदला भी ले लिया। बता दें कि 2018/19 की वनडे सीरीज में भारत ने उसे 2-1 से शिकस्त दी थी। इतना ही नहीं, भारत विदेशी जमीन पर लगातार दूसरी वनडे सीरीज हारा है। इससे पहले फरवरी में न्यूजीलैंड ने अपने घर में टीम इंडिया को 3-0 से हराया था।

सिडनी में हालांकि 390 रनों के बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया 50 ओवरों में नौ विकेट पर 338 रन ही बना सकी, लेकिन उसने संघर्ष का माद्दा जरूर दिखाया। कप्तान कोहली ने पारी संवारने की भरपूर कोशिश की, लेकिन वह 89 रन बनाने के बाद आउट हो गए। उपकप्तान केएल राहुल (76) ने छोर संभाला, पर बड़े लक्ष्य का दबाव कभी घट नहीं पाया। रवींद्र जडेजा (24) और हार्दिक पंड्या (28) के लगातार गेंदों पर लौटते ही सारी उम्मीदें ध्वस्त हो गईं। इससे पहले शिखर धवन (30), मयंक अग्रवाल (28) और श्रेयस अय्यर (38) शीर्ष क्रम में अपनी पारी को मजबूती नहीं दे पाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से पैट कमिंस ने तीन विकेट लिए। जोश हेजलवुड और एडम जाम्पा को दो-दो तो एम. हेनरिक्स और ग्लेन मैक्सेवल को एक-एक विकेट मिला।

इससे पहले टॉस जीत कर ऑस्ट्रेलिया ने फिर बैटिंग ली थी। शानदार फॉर्म में चल रहे स्टीव स्मिथ के 64 गेंदों में बनाए गए शतक की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट पर 389 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। भारत के खिलाफ वन डे में स्मिथ का यह पांचवां शतक थाय़ उन्होंने सीरीज के पहले मैच में में शतक ठोका था। स्मिथ की 104 रनों की पारी के अलावा सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने 77 गेंदों में 83 रन बनाए। कप्तान एरॉन फिंच ने पहले विकेट के लिए 23 ओवरों में 142 रनों की साझेदारी के दौरान 60 रनों का योगदान दिया। लाबुशेन और ग्लेन मैक्सवेल की जोड़ी ने इसी आक्रामकता को जारी रखते हुए ऑस्ट्रेलिया को विशाल स्कोर तक पहुंचाया। लाबुशेन ने 70 और बिग हिटर मैक्सवेल ने 29 गेंदों में चार छक्के और इतने ही चौके की मदद से नाबाद 63 रन बनाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *