बिहार में आंशिक लॉकडाउनः स्कूल-कॉलेज और कोचिंग 18 तक बंद, 30 तक बाजार सिर्फ दिन में खुलेंगे

पटना। बिहार एक बार फिर बंदी की राह पर है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने राज्यभर में सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को एक सप्ताह और बंद रखने का फैसला किया है। इस तरह ये शिक्षण संस्थान अगले रविवार यानी 18 अप्रैल तक बंद रहेंगे। यह घोषणा शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की। इसके साथ ही 30 अप्रैल तक सभी दुकानों को शाम सात बजे बंद कर देने का निर्देश जारी हुआ है। मुख्यमंत्री के मुताबिक, फिलहाल आंशिक लॉकडाउन लागू हुआ है। जरूरत पड़ने पर नाइट कर्फ्यू भी लगेगा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार लगातार स्थिति की समीक्षा कर रही है। हालात के मुताबिक फैसला लिया जाएगा। इसी के तहत कोरोना को लेकर उन्होंने अधिकारियों के साथ लंबी बैठक की। इसमें राज्य में वैक्सीन की उपलब्धता पर भी चर्चा हुई। कई जिलों में टीके नहीं मिलने से लोगों को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री ने बताया कि आठ-दस दिनों में राज्यपाल को बताकर सर्वदलीय बैठक भी की जाएगी। इस तरह की बैठक में राज्यपाल को शामिल करने का सुझाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया था।

ऐसी ही नई गाइडलाइन-

-सारे शिक्षण संस्थान 18 अप्रैल तक बंद रहेंगे।

-इस दौरान पूर्व निर्धारित परीक्षाएं होंगी। उसमें कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।

– 30 अप्रैल तक सभी दुकान या प्रतिष्ठान शाम सात बजे तक ही खुलेंगे।

-दुकानों में सभी मास्क लगाएंगे, सेनेटाइजर की व्यवस्था होगी, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

-रेस्टोरेंट, ढाबा आदि शाम सात बजे के बाद खुलेंगे। वे सिर्फ 25 प्रतिशत लोगों को ही बैठा सकेंगे। होम डिलेवरी जारी रहेगी।

-30 अप्रैल तक सभी तरह के सार्वजनिक तरह के कार्यक्रमों पर रोक।

-30 अप्रैल तक सभी धार्मिक स्थल भी आम लोगों के लिए बंद रहेंगे।

-30 अप्रैल तक सभी सरकारी दफ्तरों में अधिकारी रोज आएंगे, लेकिन कर्मचारी सिर्फ एक तिहाई। इमरजेंसी सेवाएं इससे अलग।

-30 अप्रैल तक प्राइवेट संस्थान खुलेंगे, लेकिन वहां भी सिर्फ 33 फीसदी कामगार ही एक दिन में आएंगे। औद्योगिक संस्थानों पर रोक नहीं।

-अंतिम संस्कार में सिर्फ 50 लोग शामिल होंगे। श्राद्ध और शादी में अधिकतम 200 लोग हो सकते हैं।

-सिनेमा घर खुलेंगे। वहां सिर्फ 50 फीसदी सीटों पर ही दर्शकों को टिकट दिया जाएगा।

-पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सिर्फ 50 प्रतिशत सवारी को ही मंजूरी।

-पार्क खुलेंगे, लेकिन कोविड गाइडलाइन का पालन करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *