राघोपुर में गरजे तेजस्वी, नियोजित शिक्षकों को स्थायी करने का वादा

पटना। बिहार में विपक्षी महागठबंधन के मुख्यमंत्री उम्मीदवार और राजद नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को राघोपुर से नामांकन कर दिया। नामांकन दाखिल करने के बाद तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। कहा कि नीतीश कुमार अगर अपने गृह जिले नालांदा से चुनाव लड़े तो उनको पटखनी देने वे वहां से भी चुनाव लड़ लेंगे। साथ ही एक बड़े वोट बैंक पर निशाना लगाया। उन्होंने कहा कि महागठबंधन की सरकार आने पर नियोजित शिक्षकों की सेवा नियमित कर देंगे। बता दें कि नीतीश सरकार ने नियोजित के लिए सेवा शर्त नियमावली में बदलाव किया है, फिर भी नियोजित शिक्षक काफी नाराज हैं।

इससे पहले नामांकन के लिए निकलते समय पटना में उन्होंने मां राबड़ी देवी और बड़े भाई तेजप्रताप यादव का आशीर्वाद लिया। इसके इसके बाद दोनों बेटों के साथ राबड़ी देवी पत्रकारों के सामने आईं । लालू यादव को लेकर पूछने पर कहा कि वह और उनका परिवार उन्हें मिस कर रहा है। पूरा बिहार ही उन्हें मिस कर रहा है। राबड़ी देवी ने कहा, ”तेजस्वी को बिहार की जनता ने आशीर्वाद दे दिया है। माता-पिता, भाई,बहन, पार्टी के लोगों का आशीर्वाद है। हर फोटो में लालू जी होते हैं। तेजस्वी मुख्यमंत्री जरूर बनेंगे।” इसके बाद तेजस्वी यादव ने मां और भाई के पैर छूकर आशीर्वाद लिया और नामांकन के लिए निकल गए। तेजस्वी ने ट्वीट कर भी इसकी जानकारी दी। लिखा, ”मैंने सौगंध ली है कि बिहार के हित में सदा कार्य करता रहूंगा। हर बिहारवासी को जब तक उनका हर अधिकार नहीं दिला देता, चैन से बैठने वाला नहीं हूं। इस सौगंध को पूरा करने के क्रम में नामांकन करने जा रहा हूं। परिवर्तन के इस शंखनाद में आपके स्नेह, समर्थन और आशीर्वाद का आकांक्षी हूं।” तेजस्वी ने मां और बड़े भाई के साथ फोटो भी शेयर की हैं।

गौरतलब है कि राघोपुर सीट पर लालू यादव परिवार का लंबे समय से राज रहा है। उदय नारायण राय ने 1995 में यह सीट लालू यादव को सौंपी थी, जिसके बाद लगातार राजद का लालटेन यहां जलता रहा है। लालू यादव और राबड़ी देवी दोनों ही यहां से चुनाव जीतते रहे हैं। हालांकि, 2010 में जदयू के सतीश कुमार ने इस सीट से राबड़ी देवी को हरा दिया था। इसके बाद 2015 में तेजस्वी यादव ने अपना पहला चुनाव इसी सीट से लड़ा और जीत दर्ज की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *