बिहार में विवाहित महिला शिक्षकों को पहले मिलेगा मनचाहा ट्रांसफर

पटना। बिहार सरकार ने नियोजित महिला शिक्षकों के लिए बड़ा फैसला किया है। नियोजित शिक्षकों को तबादले का विकल्प पहले ही देने की घोषणा कर चुकी सरकार ने इसके लिए पूरी प्रक्रिया भी बता दी है। नियोजित शिक्षकों का तबादला जून में होना है। बता दें कि इसमें सबसे पहले उन महिला शिक्षकों को फायदा मिलने वाला है, जिनकी शादी हो चुकी है। खास तौर पर वैसी महिला शिक्षकों को, जिनकी शादी हाल ही में हुई है। उन्हें सबसे पहले तबादले का विकल्प मिलेगा।

शिक्षा विभाग ने इस पूरी प्रक्रिया से जुड़ी नियमावली पर शनिवार को मुहर लगा दी। एनआईसी के सहयोग से इस प्रक्रिया में काम आने वाला सॉफ्टवेयर भी तैयार हो गया है। अब शीघ्र ही तबादले के लिए आवेदन मांगा जाएगा। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार के मुताबिक, इस नियमावली के तहत मई में तबादले की इच्छा रखने वालों से आवेदन लिए जाएंगे। फिर जून में उनका ट्रांसफर होगा। सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने यह भी फैसला किया है कि दिव्यांग और महिला शिक्षकों को सबसे पहले आवेदन का मौका मिलेगा। दिव्यांग शिक्षकों को उनकी परेशानी देखते हुए सबसे पहले तबादले का विकल्प दिया जाएगा। उसके बाद महिला शिक्षकों की बारी होगी। खास तौर पर ऐसी महिला शिक्षक जिनकी शादी हो चुकी है और काम के साथ-साथ परिवार  भी चला रही हैं। गौरतलब है कि बिहार में नियोजित शिक्षकों की तरफ से तबादले की मांग काफी पुरानी है। सरकार ने नियोजित शिक्षकों की सेवा शर्तों और नियमावली में सेवाकाल के दौरान एक बार तबादले का विकल्प दिया है। इसी प्रक्रिया के लिए अब ऑनलाइन पोर्टल के जरिए मई में काम शुरू हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *