तेजस्वी के दस लाख के जवाब में भाजपा का 19 लाख रोजगार का वादा

पटना। बिहार में पहले चरण के लिए 28 अक्‍टूबर को वोट डाले जाएंगे। ऐसे में चुनाव प्रचार के साथ ही घोषणापत्र जारी करने का सिलसिला जारी है। गुरुवार को भाजपा की ओर से वरिष्‍ठ नेता और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पार्टी का घोषणापत्र जारी किया। इसे संकल्‍प पत्र कहा गया है। इसके जरिये युवाओं और किसानों को साधने की कोशिश की गई है। विपक्षी महागठबंधन ने दस लाख नौकरी का वादा कर सबसे बड़ा दांव युवाओं और किसानों पर ही चला है। उसकी काट में भाजपा के घोषणापत्र में 5 साल में 5 लाख रोजगार देने बात कही गई है। साथ ही किसानों की आय को दोगुना करने का भी वादा है। भाजपा ने बिहार में एक करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का भी संकल्प लिया है। निर्मला सीतारमण ने बताया कि कुल सेक्टर मिलाकर 19 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा, जिसमें कृषि सेक्टर में 10 लाख रोजगार शामिल है।

घोषणापत्र जारी करने के दौरान सीतारमण के साथ बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव, चुनाव प्रभारी देवेंद्र फड़णवीस, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय समेत कई बड़े नेता थे। इस मौके पर प्रदेश सरकार में मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि हमने बिहार को संवारने का काम किया है। अब और निखारने का काम करेंगे। हमने घोषणापत्र जनता के सुझावों से बनाया है। इसमें युवा, किसान, छात्र, दलित सभी वर्ग के विकास का ज़िक्र है। प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बताया कि संकल्पपत्र में तीन लाख शिक्षकों की नियुक्ति करने, हिंदी भाषा में तकनीकी शिक्षा देने, एक लाख लोगों को स्वास्थ्य विभाग में नौकरी देने, 30 लाख लोगों को पक्का मकान देने, आईटी सेक्टर में पांच लाख लोगों को नौकरी देने जैसे कई वादे किए गए हैं।

इस तरह हैं भाजपा के 11 संकल्प-

-कोरोना का निशुल्क टीकाकरण।
-3 लाख नए शिक्षकों की नियुक्ति।
-आईटी हब के रूप में बिहार का विकास।
-5 साल में 5 लाख से अधिक रोजगार के अवसर।
-1 करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का प्लान।
-1 लाख लोगों को स्वास्थ्य विभाग में नौकरी।
-दरभंगा में एम्स का संचालन 2024 तक।
-दलहन की भी खरीद एमएसपी की दरों पर।
-30 लाख लोगों को साल 2022 तक पक्के मकान।
-हिंदी भाषा में मेडिकल, इंजीनियरिंग की शिक्षा।
-दूध और मछली उत्पादन को बढ़ावा देने की योजना।

जदयू का सात निश्चयः

इस बीच एनडीए के घटक दल जदयू ने भी अपना चुनावी घोषणापत्र जारी कर दिया है। प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी ने इस मौके पर कहा कि हम जनता के सामने सिर्फ सात निश्चय पेश कर रहे हैं। इसमें ‘युवा शक्ति बिहार की तरक्‍की’ पर खास फोकस रहेगा।

पूरे होते वादे,अब हैं नए इरादे-
1.युवा शक्ति बिहार की प्रगति।
2. सशक्त महिला,सक्षम महिला।
3. हर खेत में सिंचाई का पानी।
4. स्वच्छ गांव,समृद्ध गांव।
5. स्वच्छ शहर, विकसित शहर।
6. सुलभ संपर्कता।
7. सबके लिए स्वास्थ्य सुविधा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *