नीतीश की नई सरकार का पहला गिफ्ट, पटना में एम्स-दीघा एलिवेटेड रोड चालू

पटना। यह है तो राजधानी पटना में, लेकिन फायदा पूरे बिहार को मिलेगा। जी हां, सोमवार को पटना में बिहार के सबसे लंबे एम्स-दीघा एलिवेटेड रोड चालू हो गया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन के बाद कहा कि राज्य की जनता के लिए एनडीए की नई सरकार का पहला उपहार है। इससे यात्रा सुगम हो जाएगी। उद्घाटन के समय डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी के अलावा पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय समेत कई मंत्री भी थे।

अब उत्तर से दक्षिण बिहार जाने वाली गाड़ियां पटना की ट्रैफिक जाम को झेले बगैर बाहर से ही इस एलिवेटेड रोड़ से निकल जाएंगीं। अब जेपी सेतु की तरफ जाने वाले वाहनों को उत्तर बिहार के मुजफ्फरपुर समेत अन्य शहरों की ओर जाने में आसानी होगी। इसी तरह स्थानीय जाम से निकल गए तो उत्तर बिहार से राजधानी पटना, एम्स, जहानाबाद, गया और औरंगाबाद समेत अन्य शहरों में जाना चुटकी का काम हो जाएगा। इस रोड पर कहीं कोई जाम नहीं मिलेगा। उत्तर और दक्षिण बिहार के बीच आवागमन को सहज बनाने के लिहाज से बनाए गए इस पहले एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण पर करीब 13 सौ करोड़ रुपये का खर्च आया है। नई सरकार का यह पहला सार्वजनिक कार्यक्रम भी था। उद्घाटन के साथ ही इस पथ पर वाहनों का आना-जाना शुरू हो गया। पुल के निर्माण में कई नई तकनीक का इस्तेमाल हुआ है। एलिवेटेड कॉरिडोर के साथ 106 मीटर लंबा रेल ओवर ब्रिज भी बनाया गया है। 12.27 किलोमीटर लंबे इस पुल को पार करने में महज आठ मिनट का समय लगेगा। बता दें कि इस प्रोजेक्ट पर काम 2013 में शुरू हुआ था। इस तरह इस प्रोजेक्ट को पूरा होने में सात साल का समय लगा। बिहार राज्य पथ विकास निगम (बीएसआरडीसी) के एमडी संजय अग्रवाल ने इसे बिहार का सबसे लंबा एलिवेटेड पथ बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *