पिता ने भी शेहला रशीद को देशद्रोही गतिविधियों में शामिल बताया

नई दिल्ली। जेएनयू छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद के पिता ने उन तमाम बातों पर मुहर लगा दी है, जो सरकार कहती रही है। उन्होंने माना कि बेटी देश विरोधी गतिविधियों में शामिल है। शेहला के पिता अब्दुल रशीद शोरा ने इस बारे में जम्मू में पुलिस महानिदेशक को पत्र भी लिखा है। इसमें कहा है कि उनकी बेटी शेहला आईएएस के टॉपर रहे शाह फैसल के साथ मिलकर कश्मीर में हुर्रियत जैसा नया संगठन बनाना चाहती थी। कश्मीरी युवाओं को बरगला कर अलगाववाद के साथ जोड़ना चाहती थी। पिता होने के नाते हमेशा इसका विरोध किया। इसलिए अब जान का खतरा है। इसके साथ ही पिता ने बेटी की गतिविधियों की जांच कराने को भी कहा है। बता दें कि शाह फैसल ने आईएएस की नौकरी छोड़कर कश्मीर में राजनीति शुरू की थी। बाद में रत्ती भर भी सफलता नहीं मिलने पर राजनीति से भी तौबा कर लिया।

पिता अब्दुल रशीद शोरा ने बेटी शेहला के बारे में सब कुछ खोल कर बता दिया। कहा, वह पहले राष्ट्रीय पार्टी माकपा में थी। इससे उन्हें कोई शिकायत भी नहीं थी। लेकिन जब वह मुख्यधारा की सियासत छोड़ कश्मीर आधारित दल बनाने की सोची तब खेल समझ में आया। उनके मुताबिक, शाह फैसल जब छुट्टी लेकर अमेरिका गए थे,तभी शेहला और फैसल ने मिलकर कश्मीर में हुर्रियत जैसा नया संगठन बनाने का खाका तैयार किया। शोरा ने कहा, ‘पिता के तौर पर जब मैंने उसके इस कदम का विरोध किया तो शेहला ने बहन और मां के साथ मिलकर मुझपर घरेलू हिंसा का मुकदमा करा दिया।’ उन्होंने अपनी जान को खतरा बताया है। इसके लिए डीजीपी से मदद भी मांगी है।

शेहला ने पिता को बताया अत्याचारी-

उधर, शेहला ने पिता के आरोपों का खंडन किया है। कहा कि वह घरेलू हिंसा करने और पत्नी को पीटने वाला इंसान है। उनके इस व्यवहार के खिलाफ हम चुप नहीं रहेंगे। दरअसल पिता ने कभी सोचा नहीं था, उनकी बेटियां और पत्नी उनके अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाएंगी। इसलिए ऐसे फालतू के आरोप लगा रहे हैं। शेहला ने बताया कि कोर्ट ने 17 नवंबर को आदेश जारी कर उन्हें घर में नहीं घुसने का आदेश दिया था। शेहला ने कोर्ट के इस आदेश की प्रति भी ट्विटर पर शेयर किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *