एक साल में 36 लाख बढ़ी मोदी की संपत्ति, शाह को शेयर मार्केट में नुकसान

पलक, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी संपत्तियों का ब्योरा दिया है। उनकी कुल संपत्ति 30 जून 2020 तक 2.85 करोड़ रुपये की दिखाई गई है। पिछले वर्ष तक उनके पास 2.49 करोड़ रुपये की संपत्ति थी। इस तरह एक साल में 36 लाख रुपये की बढ़ोतरी हुई है। यह बढ़ोतरी उनकी तनख्वाह की बचत और एफडी के ब्याज से हुई है। वहीं गृहमंत्री अमित शाह को शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव से नुकसान हुआ है। उनकी संपत्ति 28.63 करोड़ रुपये की है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की संपत्ति में ज्यादा फेरबदल नहीं हुआ है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री और अन्य कैबिनेट मंत्रियों द्वारा हर वर्ष संपत्ति का ब्योरा सार्वजनिक करना अनिवार्य है। इनके अलावा विदेश मंत्री एस जयशंकर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत अधिकतर सीनियर मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का ब्योरा दे दिया है।

प्रधानमंत्री पर कोई लोन नहीं है। उनके पास 31 हजार 450 रुपये नकद हैं। बैंक खाते में 3.38 लाख रुपये हैं। 31 मार्च 2019 को उनके बैंक खाते में सिर्फ 4,143 रुपये थे। एसबीआई की गांधीनगर शाखा में उनकी एफडी में 1 करोड़ 60 लाख 28 हजार 39 रुपये हैं। पहले यह रकम एक करोड़ 27 लाख 81 हजार 574 रुपये थी। वह 8 लाख 43 हजार 124 रुपये के नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट के जरिए टैक्स सेविंग करते हैं। अपने जीवन बीमा के लिए 1 लाख 50 हजार 957 रुपये की प्रीमियम चुकाते हैं। उनके पास नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट के 7 लाख 61 हजार 646 रुपये थे। जीवन बीमा प्रीमियम के रूप में 1 लाख 90 हजार 347 रुपये का पेमेंट किया है। गांधीनगर में 1.1 करोड़ के मकान में उनकी हिस्सेदारी 25 प्रतिशत है। भारतीय स्टेट बैंक की गांधीनगर शाखा में उनकी फिक्स डिपॉजिट की रकम 30 जून 2020 तक बढ़कर 1 करोड़ 60 लाख 28 हजार 39 रुपये हो गई है, जो कि पिछले वित्त वर्ष में 1 कराड़ 27 लाख 81 हजार 574 रुपये थी। प्रधानमंत्री की अचल संपत्ति में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है। उनके नाम पर गांधीनगर में एक मकान है, जिसकी कीमत 1.1 करोड़ रुपये है। इस परिवार का मालिकाना हक मोदी और उनके परिवार को है। उनके पास सोने की चार अगूठियां हैं। पीएम मोदी के पास कोई कार नहीं है। तनख्वाह दो लाख रुपये है, जो वैश्विक स्तर के मुकाबले काफी कम है। कोरोना वायरस से प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को देखते हुए पीएम मोदी ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, कैबिनेट सदस्यों और सांसदों के साथ अपनी तनख्वाह में 30 फीसदी की कटौती की है। इसकी शुरुआत अप्रैल महीने से हुई थी।

प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंपे गए संपत्ति के ब्योरे के अनुसार, गृह मंत्री अमित शाह की संपत्ति घट गई है। अमित शाह को शेयर बाजार के उतार चढ़ाव के चलते इस साल नुकसान उठाना पड़ा है। अमित शाह की संपत्ति पिछले साल तक 32.3 करोड़ रुपये थी। यह जून 2020 तक घटकर 28.63 करोड़ रुपये ही रह गई है। गृह मंत्री द्वारा जारी संपत्ति की डिटेल्स के मुताबिक, अमित शाह के पास 10 अचल संपत्तियां हैं, जिनकी कुल वैल्यू 13.56 करोड़ रुपये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *