14 महीने बाद महबूबा हुईं रिहा

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के समय गिरफ्तार की गईं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को 14 महीने बाद रिहा कर दिया गया है। प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव शालीन काबरा की ओर से मंगलवार शाम को जारी आदेश के अनुसार, सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) में अपने घर पर नजरबंद महबूबा मुफ्ती को मुक्त किया जाता है।
गौरतलब है कि महबूबा को पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने से पूर्व नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डॉ. फारूक अब्दुल्ला और उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला समेत कई प्रमुख राजनेताओं के साथ नजरबंद किया गया था। शुरू में केवल प्रिवेंटिव डिटेन्शन में रखा गया। बाद में छह फरवरी को महबूबा मुफ़्ती और उमर अब्दुल्ला दोनों पर सरकार ने पीएसए लगाया गया था। फारूक और उमर की रिहाई के बाद महबूबा की रिहाई के लिए लंबे समय से मांग उठ रही थी।
महबूबा की रिहाई के लिए उनकी बेटी इल्तिजा ने सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दाखिल थी। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और प्रदेश सरकार को नोटिस जारी कर यह पूछा था कि किसी व्यक्ति को कितने दिनों तक हिरासत में रखा जा सकता है। महबूबा को हिरासत में लिए जाने के बाद चश्मे शाही स्थित अतिथिगृह ले जाया गया था। जहां से पिछले साल 16 नवंबर को एमए रोड पर स्थित सरकार बंगला नंबर- 6 में लाया गया था। सर्दियां शुरु होने के बाद बाद महबूबा को एमए रोड स्थित बंगला नंबर-6 से फेयरव्यू गुपकार शिफ्ट किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *