महाराष्ट्र के अस्पताल में आग से 10 मासूमों की मौत

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में भंडारा के जिला अस्पताल में शुक्रवार देर रात आग लग गई। इससे दस बच्चों की जान चली गई। नवजात बच्चों की उम्र एक से तीन महीने के बीच थी। आग न्यूबॉर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) में लगी थी। घटना के वक्त कुल 17 बच्चे एडमिट थे। इनमें से सात को बचा लिया गया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हादसे पर दुख जताते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं। डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री अजित पवार ने प्रदेश के सभी अस्पतालों में अग्निशमन यंत्रों की जांच के लिए आदेश जारी कर दिए हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत तमाम नेताओं ने इस दुखद घटना पर शोक जताया है।

सिविल सर्जन डॉ. प्रमोद खंडाते ने बताया कि आग शुक्रवार देर रात लगभग दो बजे लगी। अभी आग लगने के कारणों का पता नहीं चला है। लेकिन माना जा रहा है कि शॉर्ट सर्किट के कारण हादसा हुआ है। घटना के बाद परिजन बेहाल हैं। कई लोगों ने अस्पताल में प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एक डॉक्टर के मुताबिक, सबसे पहले एक नर्स ने धुआं उठते देखा। इसके बाद डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों को खबर की गई। वार्ड से सात बच्चों को दमकल कर्मियों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया, लेकिन 10 बच्चों को नहीं बचाया जा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *