पाकिस्तान में इमरान के खिलाफ विपक्ष ने दिखाई ताकत

नई दिल्ली। पाकिस्तान में मंहगाई, बेरोजगारी और कोरोना वायरस के चलते डांवाडोल स्वास्थ्य व्यवस्था जैसी तमाम समस्याओं से जनता परेशान है। इसलिए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के प्रति विरोध बढ़ता ही जा रहा है। इसे देखते हुए विपक्षी दलों ने एकजुट होकर इमरान खान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। रविवार को विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) ने लाहौर में अपनी ताकत भी दिखा दी। पीडीएम के मुखिया मौलाना फजलुर रहमान हैं।

पाकिस्तान में 11 पार्टियों के गठबंधन पीडीएम ने सरकार विरोधी अभियान के पहले चरण की अंतिम रैली रविवार को लाहौर के मीनार-ए-पाकिस्तान में की। इसमें भारी भीड़ जुटी। इस विशाल रैली का आयोजन पाकिस्तान मुस्लिम लीग (पीएमएल-एन) ने किया। लाहौर के मीनार-ए-पाकिस्तान मैदान में उमड़े जनसैलाब को मौलाना फजलुर रहमान, पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरयम नवाज और पीपीपी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने संबोधित किया।

रैली शुरू होने के घंटों पहले से भीड़ मैदान में जुटने लगी और नारेबाजी की जाने लगी थी। वैसे इमरान सरकार ने विपक्ष की इस रैली को रोकने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया था। इसके लिए रैली स्थल के पास कोरोना वायरस स्मार्ट लॉकडाउन तक की घोषणा कर दी थी। बता दें कि इस लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को जेल में डाला जा सकता है। यह लॉकडाउन 25 दिसंबर तक जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *