भारतीय सेना प्रमुख से नेपाली पीएम बोले- टेंशन नहीं

नई दिल्ली। नेपाल के साथ हमारे संबंध पटरी पर आने लगे हैं। इसके प्रमाण शुक्रवार को भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवाणे और नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली में हुई बातचीत है। एक तो बातचीत बहुत दोस्ताना माहौल में हुई। दूसरे, नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने दोनों देशों में अच्छे संबंध रहने पर खुद जोर दिया। कहा, हमारे बीच मतभेद हैं, उन्हेंदें जो भी मतभेद हैं उन्हें ऐसे ही बातचीत से सुलझाना चाहिए। ऐसा उन्होंने बंद कमरे में ही नहीं कहा। बल्कि, इस बैठक के बाद ओली के विदेशी मामलों के सलाहकार राजन भट्टराई ने ट्वीट करके भी कहा। भट्टराई ने यह भी बताया कि बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ओली ने भारत के साथ सदियों पुराने संबंधों को खास तौर पर याद किया। बता दें कि सेना प्रमुख तीन दिन के दौरे पर नेपाल गए हैं। इस यात्रा का मकसद ही दोनों देशों के बीच आए तनाव को दूर करना था। तनाव का कारण भी जगजाहिर है। वह यह कि नेपाल ने भारत के तीन इलाकों को अपने में नक्शे में शामिल कर लिया है।

जनरल नरवाणे नेपाली सेना के मुख्यालय भी गए। वहां नेपाल के सेना प्रमुख जनरल पूर्णचंद्र थापा ने उनका स्वागत किया। इससे एक दिन पहले दोनों सेना प्रमुखों ने सैन्य संबंधों को और बढ़ाने पर बात की थी। जनरल नरवाणे ने इस मौके पर नेपाली सेना के लिए कई चिकित्सा उपकरण और दो फील्ड हॉस्पिटल उपहार में दिए थे। गुरुवार को ही जनरल नरवाणे को नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने नेपाली सेना के मानद जनरल की पदवी दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *