दरभंगा में कानपुर का विकास दुबे कांड दोहराने की साजिश, बची पुलिस टीम

दरभंगा । शराब के धंधे में छोटी मछलियों को पकड़ कर जिस तरह दरभंगा पुलिस रोजाना अपनी पीठ थपथपा रही थी, उससे बड़ी मछलियों का मनोबल बढ़ने की आशंका जताई जा रही थी। सोमवार की रात वही हो भी गया। उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुआ अपराधी विकास दुबे कांड शहर से सटे सदर थानाक्षेत्र के धोई गांव में होते-होते रह गया। देर शाम एक शराब कारोबारी को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर कानपुर के बिकरू गांव की तर्ज पर गांववालों ने हमला बोल दिया। पथराव में एक एसएसबी जवान समेत दो लोग जख्मी हुए हैं। पुलिस की दो जीप को नुकसान पहुंचाया गया है। बाद में पुलिस उपाधीक्षक अनोज कुमार के नेतृत्व में जब बड़ी टीम पहुंची, तब जाकर हालात काबू में आए। इतनी बड़ी हिंसा में फिलहाल दो लोग ही पकड़े गए हैं।

पुलिस टीम अंधेरा होने के बाद धोई गांव निवासी शराब धंधेबाज पवन यादव की गिरफ्तारी के लिए गई थी। पवन पड़ोसी बसावन के दरवाजे पर बैठा दिख गया। पुलिस को देखते ही वह भागकर बसावन के घर में चला गया। उसके पीछे-पीछे पुलिस की टीम भी घर में घुसी। पुलिस से अधिक चौकस परिवार के लोगों ने घर में घुसे पुलिसवालों को बंधक बनाने की कोशिश की। जैसे-तैसे जब पुलिस की टीम घर से बाहर आई, तो छत से लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। हमले में एक एसएसबी के जवान को चोट आई है। वहीं एक ग्रामीण के भी जख्मी होने की सूचना है। पकड़े गए लोगों में रजनीश यादव, अरविंद यादव शामिल हैं। दोनों से पूछताछ की जा रही है। देर रात तक पवन की तलाश में छापेमारी चल रही थी। गौरतलब है कि अगस्त में कानपुर के पास बिकरू गांव में अपराधी विकास दुबे को पकड़ने जब पुलिस टीम गई थी तो उसके गिरोह ने घेरकर आठ पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी थी।

—–

तीन पिस्टल, 56 कारतूस और एक लाख नकद के साथ दंपती गिरफ्तार


-दरभंगा। उधर, जमालपुर थानाक्षेत्र के ढाका बलुआहा गांव में पुलिस ने तीन पिस्टल और 56 कारतूस के साथ दंपती को गिरफ्तार किया है। दंपति के घर से एक लाख रुपये नकदी और चांदी का सिक्का भी बरामद हुआ है। गिरफ्तार प्रदीप कुमार यादव और उसकी पत्नी गीता देवी से पूछताछ चल रही है। वैसे प्रदीप का कोई आपराधिक इतिहास नहीं मिला है। हालांकि, सीमावर्ती जिले के की पुलिस से संपर्क कर उसके आपराधिक इतिहास को खंगाला जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *