शहर हो रहा बदसूरत, टैक्स बढ़ेगा डेढ़ गुना

विमलनाथ झा, दरभंगा। पांच वर्षों में दरभंगा नगर निगम की कोशिशों से भले ही शहर की सूरत नहीं बदली हो, जनसमस्याएं पहले से भी बढ़ गई हों, लेकिन शहरवासियों को होल्डिंग टैक्स अब डेढ़ गुना अधिक देना होगा। राज्य सरकार के नगर विकास और आवास विभाग के संयुक्त सचिव कपिलेश्वर विश्वास के पत्र के आलोक में दरभंगा नगर निगम को पहले जो टैक्स चतुर्थ श्रेणी के स्लैब में रखा गया था, उसे दूसरी श्रेणी में रखकर होल्डिंग टैक्स डेढ़ गुना अधिक वसूलने का निर्देश दिया गया है। गत एक दिसंबर को हुई सशक्त स्थायी समिति की बैठक में एजेंडा नंबर 45 में इसे रखा भी गया था। हालांकि बैठक में सभी सदस्यों ने इसे तत्काल नहीं बढ़ाने का निर्णय लिया। अब इस एजेंडे को निगम बोर्ड की बैठक में लाने की तैयारी है। चूंकि यह राज्य सरकार का निर्देश है, इसलिए इसे लागू करना ही होगा।

नगर विकास एवं आवास विभाग के पत्र के अनुसार बिहार नगरपालिका अधिनियम 2007 की धारा 127 की उपधारा (7) (|||) के तहत संपत्ति कर के लिए प्रति वर्गफुट किराया प्रत्येक पांच वर्ष के बाद 15 प्रतिशत बढ़ाया जाएगा। दरभंगा नगर निगम में संपत्ति कर निर्धारण के लिए वार्षिक किराया मूल्य निर्धारण दर 1.4.2016 से लागू है। इसमें नगर विकास एवं आवास विभाग के पत्र संख्या 4 (न) विविध 95/12 3135 दिनांक 30.12.2013 के आलोक में श्रेणी-4 की दर लागू है। इस प्रभावी दर का पांच वर्ष 2021 में 31 मार्च को पूरा हो जाएगा। इसीलिए अप्रैल से वृद्धि करना अनिवार्य है। बता दें कि दरभंगा नगर निगम में एक अप्रैल 2016 से 10 प्रतिशत संपत्ति कर लागू है। अब अगले वित्त वर्ष में यानी अप्रैल से संपत्ति कर को 10 से बढ़ाकर 15 प्रतिशत करने का प्रस्ताव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *