हर खेत में पानी पहुंचाने के लिए दरभंगा तैयार

दीपक कुमार झा, दरभंगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम सात निश्चय पार्ट- 2 की योजना के तहत हर खेत को सिंचाई के लिए दरभंगा के जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता में समीक्षा की गई। बैठक में पश्चिमी कोसी नहर परियोजना के अधीक्षण अभियंता निरंजन कुमार ने बताया कि इस योजना के लिए नोडल विभाग जल संसाधन विभाग को बनाया गया है। कुल चार विभागों को इसमें शामिल किया गया है। इनमें जल संसाधन विभाग के अलावा लघु सिंचाई विभाग, विद्युत विभाग और कृषि विभाग हैं।

उन्होंने कहा कि जिला और प्रखंड स्तर पर इन चारों विभाग की टीम कार्य कर रही है। प्रखंड स्तर पर जल संसाधन विभाग के जूनियर इंजीनियर नोडल पदाधिकारी हैं। प्रखंड कृषि पदाधिकारी इस कार्यक्रम की देखरेख करेंगे। नक्शे और रिकार्ड प्रखंड कृषि कार्यालय में रखा जाएगा। पहले चरण में पंचायत स्तर पर जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर असिंचित क्षेत्र की पहचान की जाएगी। इसे सिंचाई डिजिटल ऐप पर अपलोड किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग के द्वारा सिंचित क्षेत्र के लिए पूर्व में राजस्व ग्राम वार सर्वे कराया गया है।

दरभंगा जिले के 18 अंचल में कुल 1247 राजस्व ग्राम हैं। इनमें से 1096 राजस्व ग्राम का सर्वे कृषि विभाग द्वारा पूर्व में किया जा चुका है। शेष राजस्व ग्राम का सर्वे किया जा रहा है। पूर्व के सर्वे के अनुसार, जिले में 33 प्रतिशत असिंचित क्षेत्र है। इसमें सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने के लए काम करना है।जिलाधिकारी ने बिजली और लघु सिंचाई विभाग को इस कार्य में पूर्ण सहयोग करने का निर्देश दिया।

बैठक में बताया गया कि असिंचित क्षेत्र का सर्वे शुरू करने के दिन से लेकर 100 वें दिन तक उस क्षेत्र को सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था कर देनी है। इसके लिए सबसे पहले सतही जल यथा नहर, आहर, पईन, चेक डैम एवं तालाब की उपलब्धता पर विमर्श किया जाएगा। यदि इसकी संभावना नहीं दिखेगी तो भूगर्भ जल यानी बोरिंग आदि की व्यवस्था की जाएगी। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को जनप्रतिनिधियों से संवाद करवाने में सहयोग प्रदान करने के निर्देश दिए तथा इस योजना को पूरा कराने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *