भारतमाला योजना के तहत बनेगा औरंगाबाद- दरभंगा पथ, हुई समीक्षा

दीपक कुमार झा, दरभंगा। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) औऱ राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) के द्वारा दरभंगा जिले में बनवाई जा रही सड़कों की गुरुवार को समीक्षा हुई। इसके लिए जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, मुजफ्फरपुर प्रमंडल के प्रबंध निदेशक रामप्रीत पासवान ने बताया कि एनएच-2 को एनएच-57 से जोड़ने के लिए भारतमाला परियोजना के अंतर्गत इंटर कॉरिडोर बनाया जा रहा है। इसके तहत आमस से-गया-जहानाबाद-नालंदा-पटना- वैशाली-समस्तीपुर होते हुए दरभंगा तक सड़क बनाई जा रही है। इसकी कुल लंबाई 209 किलोमीटर है।

इस परियोजना में चार पैकेज हैं। पैकेज नंबर-4 मुजफ्फरपुर प्रमंडल देख रहा है। इसमें समस्तीपुर जिले में पड़ने वाली सड़क का कुछ हिस्सा और दरभंगा जिले का पूरा हिस्सा शामिल है। इसकी लंबाई 44.10 किलोमीटर है। इसमें दरभंगा जिले के 32 गांव और समस्तीपुर जिले के 28 गांव शामिल हैं। दरभंगा में यह आईटीआई, रामनगर (सिरीनिया) से प्रवेश करते हुए आमाडीह- तारालाही- बलभद्रपुर- बाजीतपुर- गेहूंमी होते हुए बेला-नवादा में एनएच- 57 से मिलेगी। इसके लिए भू अर्जन की कार्रवाई की जानी है। जिलाधिकारी ने जिला भू- अर्जन पदाधिकारी अजय कुमार को तीव्र गति से कार्रवाई करने के निर्देश दिया। कहा कि 10 जनवरी 2021 तक अधियाचना का विवरण को भूमिराशि पोर्टल पर अपलोड करा दिया जाए। जिला भू अर्जन पदाधिकारी ने बताया कि 16 मौजों की खेसरा पंजी तैयार हो गई है। शेष की खेसरा पंजी तेजी से बनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि इसमें चार अंचल के मौजा शामिल हैं। इनमें अधिकतर बहादुरपुर से संबद्ध हैं।

उल्लेखनीय है कि भारतमाला योजना के तहत बिहार में 1432 किलोमीटर नई सड़कों का निर्माण किया जाना है। इस योजना के तहत मोहनियां-आरा और रजौली-बख्तियारपुर सड़क के साथ-साथ इंटर कॉरिडोर के तहत औरंगाबाद-दरभंगा, सासाराम-पटना, पटना-हाजीपुर-मुजफ्फरपुर, अन्य फीडर सड़कों में सोनवर्षा-रक्सौल, मुजफ्फरपुर-बेगूसराय-पटना साहिब, मुजफ्फरपुर-साहेबगंज, छपरा-पटना, चकिया-बैरगिनिया, अररिया-सुपौल आदि सड़कों का निर्माण होना है। राष्ट्रीय राजमार्ग, जयनगर प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता अरविंद कुमार ने बताया कि दरभंगा जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग के अंतर्गत 527ई दरभंगा-रोसड़ा पथ पर काम किया जाना है। यह सड़क आईटीआई, रामनगर से शुरू होकर दरभंगा- बहेड़ी- शिवाजीनगर- रोसड़ा पथ के पश्चिमी से होते हुए निकल रही है। यह सड़क बिल्कुल नई है।

कार्यपालक अभियंता ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग, जयनगर प्रमंडल के अंतर्गत दरभंगा- समस्तीपुर वर्तमान सड़क को चौड़ा करने का कार्य, दरभंगा- जयनगर पथ में चार लेन की सड़क निर्माण (जिसमें केवटी में बाईपास दिया जा रहा है) और चौथी सड़क मुसरीघरारी- समस्तीपुर पथ है। कुल चार सड़कें राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) द्वारा बनाई जानी है। बिहार राज्य पथ विकास निगम लिमिटेड (बीएसआरडीसीएल), समस्तीपुर प्रमंडल के उप महाप्रबंधक एवं प्रबंधक द्वारा बताया गया कि उनके अंतर्गत वरुणा पुल- रसियारी पथ में चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण का कार्य किया जाना है। अगले सप्ताह से दरभंगा में काम शुरू हो जाएगा। वर्तमान में समस्तीपुर में काम चल रहा है। इस परियोजना में आशापुर के पास बाईपास बनाया जाना है। जिला भू- अर्जन पदाधिकारी ने बताया कि एसएच-88 पथ वरुणा पुल-रसियारी पथ में चौड़ीकरण कार्य के अंतर्गत कुल 26 मौजा में भू -अर्जन किया जाना था। इनमें से 24 मौजा का भू- अर्जन कर एनएच को दे दिया गया है। शेष 2 मौजा का भू अर्जन किया जा रहा है, जिसे जल्द ही एनएच को हस्तगत करा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *